Home भारत 9 हजार करोड़ के घोटाले के आरोपी विजय माल्या को भारत लाया जाएगा, UK ने दी प्रत्यर्पण की इजाजत भारतीय अधिकारियों ने किंगफिशर एयरलाइंस के पूर्व चीफ के खिलाफ 9 हजार करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप लगाए थे.

Home भारत
9 हजार करोड़ के घोटाले के आरोपी विजय माल्या को भारत लाया जाएगा, UK ने दी प्रत्यर्पण की इजाजत
भारतीय अधिकारियों ने किंगफिशर एयरलाइंस के पूर्व चीफ के खिलाफ 9 हजार करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप लगाए थे.
नई दिल्ली: 9 हजार करोड़ रुपए के बैंक घोटाले के आरोपी कारोबारी विजय माल्य को भारत लाया जाएगा. ब्रिटेन के गृह सचिव साजिद जाविद ने विजय माल्या के भारत प्रत्यर्पण की इजाजत दे दी है. 63 साल के विजय माल्या ने दिसंबर में ब्रिटेन की अदालत में अपने प्रत्यर्पण के खिलाफ कानूनी चुनौती दी थी. शराब कारोबारी विजय माल्या पर 9000 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी का आरोप है. उसके खिलाफ सीबीआई, आयकर विभाग समेत कई एजेंसियां जांच कर रही है.

माल्या पर बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप
बता दें कि आज प्रत्यर्पण संधि प्रक्रियाओं के तहत मुख्य मजिस्ट्रेट का फैसला गृह सचिव साजिद जाविद को भेजा गया था, क्योंकि केवल वह विजय माल्या के प्रत्यर्पण का आदेश देने के लिए अधिकृत है. भारतीय अधिकारियों ने किंगफिशर एयरलाइंस के पूर्व चीफ के खिलाफ 9 हजार करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप लगाए थे. ब्रिटेन की अदालत ने कहा था कि वह भारत सरकार की तऱफ से उपलब्ध कराए गए विभिन्न आश्वासनों से संतुष्ट है, जिसमें जेल सेल का एक वीडियो भी शामिल है.

एसबीआई समेत 17 बैंको ने अदालत में दी थी माल्या के खिलाफ अर्जी

बता दें कि विजय माल्या किंगफिशर एयरलाइंस के घाटे में जाने के बाद बैंकों का लोन नहीं चुका पाया था. इसके बाद माल्या के खिलाफ और उनके विदेश जाने पर रोक की मांग को लेकर एसबीआई समेत 17 बैंको ने अदालत में अर्जी दी थी. हालांकि बाद में पता चला कि माल्या पहले की देश छोड़कर जा चुका है.

दुनिया की सबसे बड़ी शराब बनाने वाली कंपनी का चेयरमैन था माल्या

विजय माल्या ने 2003 में किंगफिशर एयरलाइंस की शुरुआत की थी. 2005 में पहली बार एयरलाइंस ने दिल्ली-मुंबई के बीच उड़ान भरनी शुरू की. इसके बाद कंपनी ने एयर डेक्कन का भी अधिग्रहण किया, लेकिन 2008 के बाद किंगफिशर की उड़ान रनवे से फिसलती चली गई और 2014 में इसकी उड़ान पर पूरी तरह से ब्रेक लग गया. विजय माल्या एक वक्त में दुनिया की सबसे बड़ी शराब बनाने वाली कंपनी युनाइटेट स्पिरिट्स का चेयरमैन था, लेकिन किंगफिशर एयरलाइंस में घाटे का असर उन्हें इस कंपनी को गंवा कर चुकाना पड़ा. साल 2013 में विदेशी कंपनी डियाजियो ने माल्या की युनाइटेड स्पिरिट्स में बड़ी हिस्सेदारी खरीद ली, लेकिन उसने डियाजियो से 515 करोड़ लेकर कंपनी के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया.

तड़क-भड़क, आलीशान पार्टियों के लिए जाना जाता है विजय माल्या

कलकत्ता यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट विजय माल्या तड़क-भड़क, आलीशान पार्टियों और विन्टेज कारों के लिए जाना जाता है . फोटो कैलेंडर लॉन्चिंग के वक्त पर उसकी मॉडलों के साथ तस्वीरें कई सालों तक सुर्खियों में रहीं. विजय माल्या के पास 250 से ज्यादा लग्जरी और विन्टेज कारें थीं. माल्या को यूबी समूह पिता से 28 साल की उम्र में विरासत में मिला था.

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

अरुणाचल प्रदेश: आम चुनाव से ठीक पहले BJP को बड़ा झटका, मंत्री समेत 14 विधायक पार्टी छोड़ NPP में शामिल

🔊 Listen to this अरुणाचल प्रदेश: आम चुनाव से ठीक पहले BJP को बड़ा झटका, …